PM Vishwakarma Yojana 2024 (विश्वकर्मा योजना)

Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana 2024 | पीएम विश्वकर्मा योजना आवेदन | Vishwakarma Scheme Details | Vishwakarma Yojana Application Forms | विश्वकर्मा योजना अनलाइन आवेदन | पीएम विश्वकर्मा लोन योजना

PM Vishwakarma Scheme
PM Vishwakarma Scheme

All About Vishwakarma Yojana

What is Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana – विश्वकर्मा योजना क्या है?

Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana or प्रधान मंत्री विश्वकर्मा योजना नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई एक बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है जिसके तहत भारत सरकार सस्ती ब्याज दरों पर कई प्रकार के कारीगरों को लोन अथवा ऋण उपलब्ध करवाएगी।

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के तहत सरकार ने 13000 करोड़ रुपये का बजट बनाया है। कारीगरों को सस्ती ब्याज दरों पर लोन देकर सरकार का उद्देश्य उन सभी कारीगरों के काम को बढ़ावा देकर उन्हें उन्नत बनाना है।

इस योजना को अभी बस announce किया गया है। पीएम विश्वकर्मा स्कीम को 17 सितंबर 2023 यानि विश्वकर्मा दिवस को लॉन्च किया जा चुका है और योजना के लिए आवेदन भी योजना की आधिकारिक वेबसाईट pmvishwakarma.gov.in के माध्यम से शुरू हो चुके हैं।

पीएम विश्वकर्मा योजना का उद्देश्य और फायदे

पीएम विश्वकर्मा योजना का उद्देश्य कारीगरों और शिल्पकारों के उत्पादों और सेवाओं की गुणत्ता, पैमाने और पहुंच में सुधार करना है। इस योजना के जरिए बुनकरों, सुनारों, लोहारों, कुम्हार, दर्जी, मूर्तिकार, कपड़े धोने वाले श्रमिकों का आर्थिक सशक्तिकरण किया जाएगा।

विश्वकर्मा स्कीम का फायदा देश भर में 30 लाख पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों के साथ बुनकरों, सुनारों, लोहारों, कुम्हार, दर्जी, मूर्तिकार, कपड़े धोने वाले, माला बनाने वाले, चिनाई करने वाले और अन्य भी कई प्रकार के श्रमिकों को होगा।

Benefits under PM Vishwakarma

PM Vishwakarma is a holistic Scheme that envisages to provide end-to-end support to the artisans and craftspeople through the following components:

  1. Recognition: PM Vishwakarma Certificate and ID Card
  2. Skill Upgradation
  3. Toolkit Incentive
  4. Credit Support
  5. Incentive for Digital Transactions
  6. Marketing Support

Check: All benefits of PM Vishwakarma Yojana

विश्वकर्मा योजना में कितने रुपये का लोन मिलेगा और ब्याज दर क्या होगी?

विश्वकर्मा योजना के पात्र सभी कारीगरों और शिल्पकारों को 3 लाख रुपये तक का लोन दो किस्तों में 5 प्रतिशत सालाना की रियायती ब्याज दर पर दिया जाएगा।

प्रतिदिन 500 रुपये मिलेंगे

विश्वकर्मा स्कीम दो प्रकार का कौशल विकास कार्यक्रम होगा जिसमें पहला ‘बेसिक’ और दूसरा ‘एडवांस’ होगा। इस कोर्स को करने वालों को मानदेय (स्टाइपंड) भी मिलेगा। कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले लाभार्थियों को प्रतिदिन 500 रूपये के हिसाब से मानदेय दिया जायेगा। इस योजना के तहत प्रथम चरण में 100000 रूपये का तक कर्ज दिया जायेगा जिस पर रियायती ब्याज (अधिकतम 5 प्रतिशत) देय होगा। व्यवसाय को व्यवस्थित करने के बाद दूसरे चरण में 2 लाख रूपये का रियायती लोन प्रदान किया जायेगा।

The Vishwakarma scheme will consist of two types of skill development programs: the first being ‘Basic,’ and the second being ‘Advanced.’ Participants of this course will also receive a stipend. Beneficiaries obtaining skill training will be given a stipend of 500 rupees per day. In the first phase of this scheme, a loan of one lakh rupees will be provided at a nominal interest of up to a maximum of five percent. After establishing the business, in the second phase, a subsidized loan of 2 lakh rupees will be provided.

Term of Repayment (In months)
1st Tranche loan amount which can be Upto Rs. 1,00,000 has to be repaid in 18 months
2nd Tranche loan amount which can be Upto Rs. 2,00,000 has to be repaid in 30 months

15000 रुपये की आतिरिक्त मदद

कुछ सूत्रों के अनुसार, पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत कारीगरों, शिल्पकारों को पीएम विश्वकर्मा प्रमाणपत्र (PM Vishwakarma Certificate) प्रदान कर मान्यता भी दी जायेगी और विश्वकर्मा पहचान पत्र (Vishwakarma ID Card) भी दिया जायेगा। इस योजना के तहत कारीगरों को डिजिटल लेनदेन में प्रोत्साहन और बाजार समर्थन प्रदान किया जायेगा। इस तरह से कारीगरों और शिल्पकारों को अपने काम में सुधार, तेजी और गुणवत्ता लाने के लिए आधुनिक उपकरण खरीदने के लिए 15 हजार रूपये की अतिरिक्त मदद दी जायेगी।

Vishwakarma Scheme Benefits
Vishwakarma Scheme Benefits

विश्वकर्मा योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

पीएम विश्वकर्मा योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, योजना के लिए आवेदन online CSC अथवा कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से प्राप्त किए जा रहे हैं।

विश्वकर्मा योजना के आवेदन के चार मुख्य चरण होंगे।

  1. मोबाईल और आधार वेरीफिकेशन
  2. कारीगर पंजीकरण
  3. पीएम विश्वकर्मा प्रमाण पत्र
  4. लोन के लिए आवेदन

आवेदन के ये सभी चरण CSC या फिर ग्राम पंचायत के माध्यम से पूरे किए जा सकते हैं।

चूंकि, बहुत से पुराने कारीगर या फिर शिल्पकार पढे लिखे नहीं हैं या फिर अनलाइन आवेदन की प्रक्रिया से परिचित नहीं है तो योजना के लिए आवेदन की सुविधा CSC अथवा कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से दी गई है।

PM Vishwakarma Yojana – किस किस को मिलेगा विश्वकर्मा योजना का फायदा

Here is the list of eighteen traditional trades covered under the PM Vishwakarma Yojana. प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के तहत इन सभी प्रकार के कारीगरों और शिल्पकारों को लोन उपलब्ध करवाया जाएगा।

  1. Carpenter (Suthar) – बढ़ई अथवा लकड़ी का काम करने वाले
  2. Boat Maker – नाव निर्माता
  3. Armourer – कवचकार
  4. Blacksmith (Lohar) – लुहार अथवा लोहे का काम करने वाले लोग
  5. Hammer and Tool Kit Maker – हथौड़ा और अन्य उपकरण किट निर्माता
  6. Locksmith – ताले निर्माता अर्थात ताले बनाने वाला
  7. Goldsmith (Sonar) – सुनार
  8. Potter (Kumhaar) – कुम्हार
  9. Sculptor (Moortikar, stone carver), Stone breaker – मूर्तिकार, पत्थर कलाकार, पत्थर तोड़ने वाला
  10. Cobbler (Charmkar)/Shoesmith/Footwear artisan – चर्मकार / जूता निर्माता / जूता कलाकार
  11. Mason (Rajmistri) – मिस्त्री / चिनाई करने वाला मिस्त्री
  12. Basket/Mat/Broom Maker/Coir Weaver – टोकरी / चटाई / झाड़ू निर्माता / बुनाई करने वाला
  13. Doll & Toy Maker (Traditional) – गुड़िया और खिलौने निर्माता (पारंपरिक)
  14. Barber (Naai) – नाई
  15. Garland maker (Malakaar) – माला बनाने वाले
  16. Washerman (Dhobi) – धोबी
  17. Tailor (Darzi) – दर्जी
  18. Fishing Net Maker – मछली जाल निर्माता

Check: Complete Beneficiary List of Vishwakarma Yojana

PM Vishwakarma Yojana Beneficiaries
PM Vishwakarma Yojana Beneficiaries

PM Vishwakarma Scheme – Highlights

Main PointDetails
Scheme NamePM Vishwakarma Yojana (प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना)
ApprovalScheme Approved in Union Budget 2023-24 and announced on 15th August 2023
LaunchScheme launched on 17th September 2023, on Vishwakarma Jayanti
PurposeTo support people with traditional skills through low interest loans and skill training
Loan AmountUp to ₹1 lakh in the first tranche, and another ₹2 lakh in the second tranche
Loan Interest RateLoan will be provided at a concessional interest rate of 5% per annum
BeneficiariesAround 30 lakh traditional artisans and craftsmen, including weavers, goldsmiths, blacksmiths, laundry workers, and barbers
BenefitsRecognition through PM Vishwakarma certificate and ID card, Credit Support, Skill Upgradation, Toolkit Incentive, Incentive for Digital Transactions, and Marketing Support
GoalStrengthen and nurture Guru-Shishya parampara of traditional skills, improve quality and reach of products/services, integrate artisans with domestic and global value chains
Covered Trades18 Trades Covered: Carpenter, Boat Maker, Armourer, Blacksmith, Hammer and Tool Kit Maker, Locksmith, Goldsmith, Potter, Sculptor, Cobbler, Mason, Basket/Mat/Broom Maker, Doll & Toy Maker, Barber, Garland maker, Washerman, Tailor, Fishing Net Maker
CoverageRural and urban artisans and craftspeople across India
Total Budget₹13,000 to ₹15,000 crore for 5 years
Pradhan Mantri Vishwakarma Scheme – Highlights
PM Vishwakarma Yojana - Highlights
PM Vishwakarma Yojana – Highlights

Vishwakarma Yojana – Progress

Below is the progress of PM Vishwakarma Yojana as on 25 February 2024

PM Vishwakarma Yojana Progress

पीएम विश्वकर्मा योजना – FAQ’s

पीएम विश्वकर्मा योजना क्या है?

पीएम विश्वकर्मा योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक नई योजना है जिसका उद्देश्य पारंपरिक कारीगरों, शिल्पकारों, बुनकरों, सुनारों, लोहारों, कपड़े धोने वाले और अन्य कई प्रकार के श्रमिकों के लिए समर्थन प्रदान करना है।

यह योजना कितने लोगों को लाभ पहुंचाएगी?

विश्वकर्मा योजना पूरे देश में लगभग 30 लाख पारंपरिक कारीगरों, शिल्पकारों, बुनकरों, सुनारों, लोहारों, कपड़े धोने वाले श्रमिकों आदि को लाभ पहुंचाएगी।

विश्वकर्मा योजना के तहत कितना ऋण मिलेगा?

पीएम विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत सभी पात्र कारीगरों और शिल्पकारों को पहली किस्त में 1 लाख रुपये और दूसरी किस्त में 2 लाख रुपये का ऋण मिलेगा।

विश्वकर्मा योजना का ऋण कितने Interest Rate पर मिलेगा?

विश्वकर्मा योजना के तहत मिलने वाले ऋण की ब्याज दर 5 प्रतिशत सालाना होगी।

पीएम विश्वकर्मा योजना कब लॉन्च होगी?

योजना का लॉन्च 17 सितंबर 2023 अथवा विश्वकर्मा जयंती के दिन हो चुका है।

पीएम विश्वकर्मा योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

PM Vishwakarma Yojana के तहत आवेदन CSC के माध्यम से Online प्राप्त किए जा रहे हैं।

विश्वकर्मा योजना लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

विश्वकर्मा योजना लिए ऑनलाइन आवेदन CSC और आधिकारिक पोर्टल के जरिए लिए जा रहे हैं जैसा कि अब तक शुरू की बहुत सारी योजनाओं के लिए भी किया गया है। आधिकारिक पोर्टल के लिए इस लिंक पर जाएँ https://pmvishwakarma.gov.in

क्या योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन की सुविधा होगी?

यदि कोई पुराने कारीगर या शिल्पकार ऑनलाइन प्रक्रिया से परिचित नहीं हैं, तो उनके लिए योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन की सुविधा भी CSC के माध्यम से ही उपलब्ध है।

इस योजना का उद्देश्य क्या है?

पीएम विश्वकर्मा योजना का उद्देश्य पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों के उत्पादों और सेवाओं की गुणवत्ता और पहुंच में सुधार करना, उनका आर्थिक सशक्तिकरण करना है।

पीएम विश्वकर्मा योजना का बजट क्या है?

विश्वकर्मा योजना के लिए केंद्र सरकार ने 13,000 करोड़ रुपये का बजट मंजूर किया है।

इस योजना का लाभ किस किस को मिलेगा

योजना के अनुसार, पहले चरण में शामिल होने वाले व्यवसायों में बढ़ई, नाव निर्माता, अस्त्र बनाने वाला, लोहार, हथौड़ा और टूल किट निर्माता, ताला बनाने वाला, गोल्डस्मिथ, कुम्हार, मूर्तिकार, मोची, मेसन, टोकरी/चटाई/झाड़ू निर्माता, गुड़िया और खिलौना निर्माता, नाई, माला बनाने वाला, धोबी, दर्जी और मछली पकड़ने का जाल बनाने वाला शामिल हैं। जो भी कारीगर इन व्यवसायों से जुड़े हुए हैं उनको इस योजना का लाभ मिल सकता है।

क्या इस योजना का लाभ सिर्फ शहरी क्षेत्र के लोगों को मिलेगा?

नहीं, पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ दोनों ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के कारीगरों और शिल्पकारों को मिलेगा।

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत कौन-कौन सी सहायता प्रदान की जाएगी?

योजना के तहत पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को पीएम विश्वकर्मा प्रमाणपत्र और पहचानपत्र के माध्यम से मान्यता प्रदान की जाएगी, साथ ही कौशल उन्नयन, टूलकिट प्रोत्साहन, डिजिटल लेन-देन के लिए प्रोत्साहन और विपणन सहायता भी प्रदान की जाएगी।

योजना के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख क्या होगी?

योजना के लिए आवेदन की आखिरी तारीख योजना के बारे में कोई भी जानकारी उपलब्ध नहीं है या फिर ये भी कह सकते हैं कि अभी तक योजना कि कोई अंतिम तारीख तय नहीं की गई है।

यह वेबसाईट विश्वकर्मा योजना की आधिकारिक वेबसाईट नहीं है और ना ही इसका किसी सरकारी विभाग, या अधिकारी से किसी प्रकार का कोई संबंध या लेना देना है। यह वेबसाईट बस विश्वकर्मा योजना के बारे में जानकारी देने के लिए बनायी गई है।

योजना की आधिकारी वेबसाईट https://pmvishwakarma.gov.in है।